Rajinder Goel Demise। Bishan bedi said he was better then me, but I Got lucky break to get into indian team | पूर्व भारतीय कप्तान बेदी बोले- राजिंदर मुझसे बेहतर गेंदबाज थे, लेकिन मेरी किस्मत अच्छी थी कि मुझे मौका मिला

Read Time:3 Minute, 36 Second
Rajinder Goel Demise। Bishan bedi said he was better then me, but I Got lucky break to get into indian team | पूर्व भारतीय कप्तान बेदी बोले- राजिंदर मुझसे बेहतर गेंदबाज थे, लेकिन मेरी किस्मत अच्छी थी कि मुझे मौका मिला


  • पूर्व क्रिकेटर राजिंदर सिंह की 77 साल की उम्र में कैंसर से मौत हुई
  • बाएं हाथ के इस स्पिनर ने फर्स्ट क्लास क्रिकेट में 750 विकेट लिए थे
  • पूर्व कप्तान बिशन सिंह बेदी ने कहा- उनके जैसे टैलेंट के साथ अन्याय हुआ

दैनिक भास्कर

Jun 22, 2020, 06:40 PM IST

रणजी ट्रॉफी में 600 से ज्यादा विकेट लेने वाले इकलौते गेंदबाज राजिंदर सिंह की मौत से पूर्व क्रिकेटर भी दुखी हैं। इसमें पूर्व भारतीय कप्तान बिशन सिंह बेदी भी शामिल हैं। उन्होंने कहा कि राजिंदर सिंह मुझसे बेहतर स्पिनर थे, लेकिन मैं भाग्यशाली रहा कि मुझे मौका मिला। 

टाइम्स ऑफ इंडिया से बातचीत में बेदी ने गोयल के निधन पर शोक जताते हुए कहा, ‘‘वह भारत के महान स्पिनर थे, लेकिन दुर्भाग्य रहा कि उन्हें कभी भारतीय टीम में चांस नहीं मिला।’’

मेरे टीम से बाहर होने पर भी गोयल को चांस नहीं दिया गया: बेदी

बेदी ने आगे कहा, ‘‘जब मुझे 1974-75 में वेस्टइंडीज दौरे पर अनुशासनहीनता के कारण टीम से बाहर रखा गया, तब भी राजिंदर को मौका नहीं दिया गया। अगर वे टीम में होते, तो शायद भारत वेस्टइंडीज से मैच जीत जाता।”

‘गोयल को भारतीय टीम में शामिल न करना अन्याय था’

इस पूर्व भारतीय कप्तान ने बताया कि मैंने लॉकडाउन से पहले गोयल से बात की थी और मुझे ऐसा नहीं लगा था कि उनकी यह पारी पूरी होने वाली है। उनके साथ अन्याय हुआ। फर्स्ट क्लास क्रिकेट में उनके नाम 750 विकेट थे। इसमें से अकेले 637 विकेट उन्होंने रणजी ट्रॉफी में लिए थे। इसके बावजूद उन्हें कभी भारतीय कैप पहनने का मौका नहीं मिला। लेकिन उन्हें इसका अफसोस नहीं था।’’

यह सच नहीं कि उन्हें मेरे कारण मौका नहीं मिला
73 साल के बेदी ने कहा, ‘‘लोगों अब भी यही लगता है कि मेरे टीम में होने की वजह से राजिंदर को मौका नहीं मिला, क्योंकि हम दोनों ही लेफ्ट आर्म स्पिनर थे। लेकिन यह पूरी तरह से सच नहीं है। क्योंकि उन्होंने मुझसे पहले खेलना शुरू किया था और मेरे बाद में खत्म किया।’’

गोयल ने 18 बार दस विकेट लिए थे

गोयल ने 157 फर्स्ट क्लास मैच में 750 विकेट लिए थे। उन्होंने एक मैच में 18 बार 10, तो 59 बार 5 विकेट लिए। उन्होंने 8 लिस्ट-ए मैच भी खेले। इसमें उन्होंने 14 विकेट लिए। वहीं, बिशन सिंह बेदी ने 67 टेस्ट में 266 और 10 वनडे में 7 विकेट लिए थे। इसके अलावा उन्होंने 370 फर्स्ट क्लास मैच में 1560 विकेट हासिल किए। 



Source link

0 0
Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleppy
Sleppy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *