BCCI President Sourav Ganguly’s Elder brothers family members test positive for Coronavirus | बीसीसीआई अध्यक्ष के बड़े भाई की पत्नी की रिपोर्ट पॉजिटिव, उनके माता-पिता और नौकर भी संक्रमित

Read Time:3 Minute, 24 Second
BCCI President Sourav Ganguly’s Elder brothers family members test positive for Coronavirus | बीसीसीआई अध्यक्ष के बड़े भाई की पत्नी की रिपोर्ट पॉजिटिव, उनके माता-पिता और नौकर भी संक्रमित


  • सौरव गांगुली के बड़े भाई स्नेहाशीष की कोरोना रिपोर्ट निगेटिव आई है, फिलहाल वे होम क्वारैंटाइन हैं
  • उनकी पत्नी और बाकी सदस्यों का दोबारा कोरोना टेस्ट कराया जाएगा, इसकी रिपोर्ट के बाद डिस्चार्ज करने पर फैसला होगा

दैनिक भास्कर

Jun 20, 2020, 09:04 PM IST

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड(बीसीसीआई) अध्यक्ष सौरव गांगुली के परिवार में भी कोरोना संक्रमण का मामला सामने आया है। उनके बड़े भाई और क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ बंगाल के सचिव स्नेहाशीष गांगुली की पत्नी और उनके माता-पिता की कोरोना रिपॉर्ट पॉजिटिव आई है। यह सभी बेहाला में गांगुली के पुश्तैनी घर के बजाए मोमिनपुर में रह रहे थे।

स्नेहाशीष के मोमिनपुर घर पर काम करने वाला नौकर भी संक्रमित पाया गया है। राज्य के स्वास्थ्य विभाग ने यह जानकारी दी। 

नर्सिंग होम में सभी का इलाज चल रहा

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, स्नेहाशीष की पत्नी और उनके सास-ससुर ने सर्दी और बुखार की शिकायत की थी। लक्षण कोरोना से मिलते-जुलते नजर आ रहे थे। इसके बाद सभी का कोरोना टेस्ट कराया गया। रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद चारों सदस्यों को नर्सिंग होम में भर्ती किया गया। 

दूसरी कोरोना रिपोर्ट के बाद डिस्चार्ज पर फैसला होगा 

नर्सिंग होम के डॉक्टरों ने बताया कि फिलहाल चारों मरीजों का स्वास्थ्य ठीक है। शनिवार को इनका फिर से कोरोना टेस्ट कराया जाएगा। इसकी रिपोर्ट के आधार पर ही इन्हें डिस्चार्ज करने का फैसला होगा। 

स्नेहाशीष की कोरोना रिपोर्ट निगेटिव

पत्नी और सास-ससुर की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद स्नेहाशीष ने भी अपना कोरोना टेस्ट कराया था, लेकिन उनकी रिपोर्ट निगेटिव आई है। हालांकि, इसके बाद भी उन्हें होम क्वारैंटाइन के लिए कहा गया है। 

गांगुली ने गरीबों के लिए 50 लाख रु. का चावल दान किया था

कोरोनावायरस महामारी की शुरुआत से ही गांगुली बंगाल में गरीबों की मदद कर रहे हैं। शुरुआत में उन्होंने गरीबों के लिए 50 लाख रुपए कीमत का तो बेलूर मठ में 2 हजार किलो चावल दान किया था। इसके अलावा उन्होंने कोलकाता के इस्कॉन सेंटर के जरिए रोजाना 10 हजार लोगों को खाना खिलाने का भी वादा किया था। 



Source link

0 0
Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleppy
Sleppy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *